PM मोदी पर राहुल गांधी का प्रहार, कहा- नफरत नहीं, सिर्फ प्यार से हरा सकते हैं

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को मध्य प्रदेश के शाजापुर में चुनावी रैली को संबोधित किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गांधी परिवार पर किए जाने वाले हमलों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि पीएम मुझसे चाहे जितनी नफरत करें, मैं तो उन्हें गले लगाऊंगा. मोदी को नफरत से नहीं प्यार से हराया जा सकता है.

देवास संसदीय क्षेत्र के शाजापुर में पार्टी प्रत्याशी के लिए प्रचार करने पहुंचे राहुल गांधी ने कहा कि मैं नरेंद्र मोदी से नफरत नहीं करता हूं, पीएम मोदी को जो बोलना है बोलें, नफरत को नफरत नहीं काट सकती. नफरत के साथ नरेंद्र मोदी को नहीं हराया जा सकता, नरेंद्र मोदी को सिर्फ प्यार से हराया जा सकता है.  

मध्य प्रदेश में किसानों की कर्ज माफी को लेकर राहुल ने एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि राज्य में सिर्फ किसानों का कर्ज माफ नहीं हुआ है, बल्कि शिवराज सिंह चौहान के भाई और परिवार के सदस्यों का भी कर्ज माफ हुआ है. इसके कागज भी सामने आ गए हैं, परिवार के सदस्यों के दस्तखत वाले फॉर्म कमलनाथ ने निकाल दिए. कांग्रेस के कार्यकर्ता के दिल में नफरत नहीं है, बीजेपी के लोगों, आरएसएस के लोगों और नरेंद्र मोदी के दिल में नफरत है. हमारा काम उस नफरत को मिटाने का है.  

राहुल ने आगे कहा कि ये लोग मुझ पर आक्रमण करते हैं, मेरे पिता के बारे में बोलते हैं, दादी के बारे में और परदादा के बारे में बोलते हैं. नफरत से बोलते हैं, गुस्से से बोलते हैं और मै झप्पी देता हूं. जा के गले लग जाता हूं. नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री है, देश के व्यक्ति आपके पीछे खड़े हैं. नफरत मिटाइए, प्यार से काम कीजिए. आपका ही फायदा होगा.

नोटबंदी और जीएसटी से हुई परेशानियों और रोजगार पर पड़े असर का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के कारण इससे देश की अर्थव्यवस्था गड़बड़ा गई है, रोजगार के अवसर कम हुए हैं.

राहुल ने कहा कि कांग्रेस ने देश के गरीबों के लिए न्याय योजना तैयार की है. इस योजना के तहत हिंदुस्तान के सबसे गरीब लोगों के बैंक खातों में सीधे पैसा डाला जाएगा. 72 हजार रुपये साल के और तीन लाख 60 हजार रुपये पांच सालों में डाले जाएंगे. इस योजना से देश के पांच करोड़ परिवारों के 25 करोड़ लोगों को लाभ होगा.

उन्होंने आगे कहा कि न्याय योजना से लाखों करोड़ रुपये जैसे ही सबसे गरीब परिवारों के खातों में जाएंगे, वैसे ही खरीददारी शुरू होगी. यह खरीदी दुकानों से होगी, जैसे ही माल बिकना शुरू होगा, फैक्टरी चालू होगी. उसके बाद युवाओं को रोजगार मिलेगा. इस योजना का मकसद गरीबों की मदद तो है ही, साथ में देश की अर्थव्यवस्था को सुधारना भी है.

न्याय योजना का ब्यौरा देते हुए राहुल ने कहा कि जिस भी व्यक्ति की आमदनी 12 हजार रुपये माह से कम है, उसके खाते में इस योजना की राशि तब तक जाएगी, जब तक उसकी आमदनी 12 हजार रुपये प्रति माह नहीं हो जाती.

इस मौके पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किसानों की कर्ज माफी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कांग्रेस की न्याय योजना को देश के गरीबों की योजना करार दिया.

Please follow and like us:
error

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *