अपने-अपने कार्यस्थलों पर निवास भी करें एएनएम: सीडीओ एएनएम को प्रदान किये गये टैबलेट, स्टेथोस्कोप व रक्तचाप मापक यन्त्र

बहराइच 13 जून। स्वास्थ्य योजनाओं कार्यक्रमों एवं स्वास्थ्य सेवाओं को धरातल पर क्रियान्वयन तथा क्रियान्वयन में आ रही समस्याओं के निराकरण कराये जाने के उद्देश्य से विकास भवन सभागार में विकास खण्ड कैसरगंज, जरवल, फखरपुर, चित्तौरा तथा बहराइच अर्बन की एएनएम का मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान की अध्यक्षता में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला के दौरान बहराइच अर्बन के 16 वरिष्ठ एएनएम को टैबलेट तथा 16 नव नियुक्त एएनएम को रक्तचाप मापक यंत्र (बीपी इस्टूमेण्ट) एवं आला (स्टेथोस्कोप) का मुख्य विकास अधिकारी द्वारा वितरण किया गया। 
मुख्य विकास अधिकारी श्री चैहान ने निर्देश दिया कि सभी एएनएम उपकेन्द्र पर निवास करना सुनिश्चित करें। एएनएम उपकेन्द्र की जो भी समस्याएं है उसका एक माह में निराकरण कराकर वहां पर सभी मूल भूत सुविधाएं उपलब्ध करा दी जायेगी। उन्होने कहा कि जनपद में पर्याप्त संख्या में एएनएम की तैनाती हो गयी है अब स्वास्थ्य सेवाओं को धरातल पर क्रियान्वयन करने में कोई समस्या नही आनी चाहिए। उन्होने सचेत करते हुए कहा कि जिसके स्तर से उदासीनता एवं लापरवाही बरती जायेगी उसके खिलाफ कठोर कार्यवाही की जायेगी। नव नियुक्त एएनएम, वरिष्ठ एएनएम से समन्वय कर और उनके अनुभवों का लाभ प्राप्त करते हुए शासन की मंशानुसार स्वास्थ्य सेवाओं को पूरे जोश के साथ धरातल पर क्रियान्वित करें। 
उन्होने कहा कि स्वास्थ्य योजनाओं, कार्यक्रमों एवं स्वास्थ्य सेवाओं के प्रदान करने में यदि किसी प्रकार की समस्या आये तो उसे उच्चाधिकारियों के संज्ञान में लाये ताकि उसका समय से निराकरण कराया जा सके। उन्होने कहा कि शीघ्र ही भविष्य में एनएमवार उनके कार्यो की समीक्षा की जायेगी। कार्य संतोष जनक न पाये जाने पर उनके खिलाफ कार्यवाही भी की जायेगी। सीडीओ ने यह भी निर्देश दिया कि बैक्सीन दवा आदि का पर्याप्त स्टाक रखा जाए ताकि अभियान के दौरान किसी प्रकार की समस्या न रहे। 
कार्यशाला के दौरान डीपीएम, एनएचएम डा. आर.बी. यादव ने एएनएम द्वारा किए जाने वाले कार्यो एवं जांचांे आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि एएनएम स्वास्थ्य योजनाओं कार्यक्रमों एवं स्वास्थ्य सेवाओं को प्रदान करने में एक महत्वपूर्ण कड़ी है। सभी एएनएम अपने दायित्वों एवं कर्तव्यों का निर्वहन पूरी निष्ठा, ईमानदारी व लगन के साथ करते हुए जनपद को स्वास्थ्य तथा पोषण के सभी इंडीकेटरों में अच्छा स्थान दिलाये। उन्होने एएनएम को अस्वस्थ किया कि स्वास्थ्य सेवाओं को प्रदान करने में जो समस्याएं है उसका निराकरण कराने का हर संभव प्रयास किया जायेगा। उन्होने बीएचएसएनडी दिवस, एएनसी जांच, मदर चाइल्ड प्रोटेक्शन (एमसीपी) कार्ड को भरने, परिवार नियोजन के तरीकों आदि के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्रदान की। उन्होने बताया कि इसी प्रकार 14 जून को विकास खण्ड रिसिया, हुजूरपुर, विशेश्वरगंज, पयागपुर एवं तेजवापुर तथा 21 जून को महसी, शिवपुर, नवाबगंज, एवं मिहीपुरवा व बलहा के एएनएम की भी कार्यशाला का आयोजन किया है। 
एसएमओ डा. प्रिया बंसल द्वारा हेड काउण्ट सर्वे, डयूलिस्ट, आशा बहुओं के रजिस्टर अभिलेखों को चेक करने आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी। प्रशिक्षण के दौरान जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. वी.पी. वर्मा सहित प्रभारी चिकित्साधिकारी व एएनएम मौजूद रहे।

Please follow and like us:
error

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *